Wahan Kaun Hai Tera Musafir Jayega Kahan


Movie: Guide (1965)
Lyrics: Shailendra
Music & Vocals: S.D.Burman

वहाँ कौन है तेरा
मुसाफिर, जाएगा कहाँ
दम ले ले घड़ी भर
ये छइयाँ पाएगा कहाँ
वहाँ कौन है तेरा

तूने तो सबको, राह बताई
तू अपनी मंज़िल क्यूँ भूला
सुलझा के राजा, औरों की उलझन
क्यूँ कच्चे धागों में झूला
क्यूँ नाचे सपेरा
मुसाफिर, जाएगा कहाँ…

बीत गए दिन, प्यार के पल-छीन
सपना बनी वो रातें
भूल गए वो, तू भी भुला दे
प्यार की वो मुलाकातें
सब दूर अंधेरा
मुसाफिर जाएगा कहाँ…

कोई भी तेरी, राह ना देखे
नैन बिछाए ना कोई
दर्द से तेरे, कोई ना तड़पा
आँख किसी की ना रोई
कहे किसको तू मेरा
मुसाफिर जाएगा कहाँ…

कहते हैं ज्ञानी, दुनिया है फानी
पानी पे लिखी लिखाई
है सबकी देखी, है सबकी जानी
हाथ किसी के ना आई
कुछ तेरा ना मेरा
मुसाफिर जाएगा कहाँ…